Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

d2349513-159e-44bf-877b-71d03d892a87_1642123990

Varanasi के घाटों के सफ़ाई कर्मचारियों को नहीं मिला है ढाई महीने से वेतन, घाट पर कूड़ा फैलाकर किया प

Varanasi के घाटों के सफ़ाई कर्मचारियों को नहीं मिला है ढाई महीने से वेतन, घाट पर कूड़ा फैलाकर किया प्रदर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) के अस्सी घाट (Assi Ghat) पर आज (15 जनवरी) सुबह सीढ़ियों पर कूड़ा और गंदगी बिखरी पड़ी थी और वाराणसी (Varanasi) के मंच से थोड़ा आगे सफ़ाई कर्मी नारा लगा रहे थे और अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। दरअसल, यह सफ़ाई कर्मी, निजी कंपनी की तरफ़ से अनुबंधित हैं और इनका काम वाराणसी (Varanasi) के अस्सी घाट (Assi Ghat) से लेकर राजघाट (Rajghat) तक सफ़ाई व्यवस्था करना है। इन सफ़ाई कर्मियों को ढाई महीने से वेतन नहीं मिली है और इनको अनुबंधित करने वाली कंपनी भी इनक बात नहीं रही हैढाई महीने से वेतन न मिलने के विरोध में यह सफ़ाई कर्मी विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

Workers Protest, Garbage At Varanasis Assi Ghat - वाराणसी के घाटों की सफाई  करने वाले कर्मियों को ढाई माह से वेतन नहीं, कूड़ा फैलाकर जताया विरोध | UP  News In Hindi

सफाई कार्य को त्याग कर इन सफ़ाई कर्मचारियों ने प्रदर्शन के तौर पर अस्सी घाट (Assi Ghat) पर कूड़ा फैलाया और नगर निगम के कर्मचारियों को भी सफ़ाई करने से रोकाइनकी मायह है कि जब तक उनक बक़ाया वेतन नहीं मिलेगा, तब तक वह किसी को भी यहा पर काम भी नहीं करने देंगे। अब देखने वाली बात यह होगी की इन सफ़ाई कर्मचारियों के प्रदर्शन से कंपनी पर कब और कितना असर पड़ता है।

Aetarat Ahmad

Comment As:

Comment (0)