Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

swami-prasad-maurya-7591

“नाग रूपी RSS और साँप रूपी BJP को ख़त्म करेगा Swami रूपी नेवला”: Swami Prasad Maurya

“नाग रूपी RSS और साँप रूपी BJP को ख़त्म करेगा Swami रूपी नेवला”: Swami Prasad Maurya

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आग़ामी विधानसभा चुनाव 2022 (Election 2022) होने में अब बस कुछ दिनों का ही वक़्त बचा है। इसी बीच OBC के जिग्गज नेता के रूप में देखे जाने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने भाजपा का साथ छोड़ दिया है। मौर्य (Maurya) का भाजपा को छोड़ कर जाना भाजपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है पार्टी छोड़ने के बाद वह भाजपा के ख़िलाफ़ हमलावर रुख़ में दिख रहे हैं। उनका कहना है क वह उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में RSS और भाजपा को खत्म कर के ही मानेंगे। उन्होंने एक ट्वीट कर लिखा है की, नाग रूपी RSS एवं साप रूपी भाजपा को स्वामी (Swami) रूपी नेवला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से खत्म करके ही दम लेगा

स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा है की, भाजपा पिछड़े वर्गों की समस्याओं को लेकर बहरी है और पार्टी ने मुझे मंत्री बनाकर कोई उपकार नहीं किया है भाजपा को 2017 में जीत के साथ अपने वनवास (Exile) के 14 साल खत्म होने के लिए मेरा आभारी होना चाहिए मैं कहा आने वाला हू, कहा जाने वाला हूँ। सब चीज़ें 14 जनवरी को स्पष्ट हो जाएंगी

BJP MLA Mukesh Verma quits; 7th resignation before UP elections | NewsBytes

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के विधानसभा चुनाव (Election) से पहले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में सियासी उठापटक का दौर लगातार जारी है। इसी बीच, भाजपा MLA मुकेश वर्मा (Mukesh Verma) ने भी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया है और साथ ही अपने त्यागपत्र में आरोप लगाया है की, भाजपा की प्रदेश सरकार ने अपने 5 साल के कार्यकाल के दौरान दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं को तवज्जों नहीं दी और न मुझे कोई सम्मान दिया हैस्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) शोषित-पीड़ितों की आवाज हैं, वह हमारे नेता हैं मैं उनके साथ हूँ।

Aetarat Ahmad

Comment As:

Comment (0)