Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

liquor-large

नए साल में अब महंगी नहीं होगी शराब, Uttar Pradesh में नई आबकारी नीति

नए साल में अब महंगी नहीं होगी शराब, Uttar Pradesh में नई आबकारी नीति

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) की नई नीति के तहत राज्‍य में शराब का दाम नहीं बढ़ेगा लेकिन लाइसेंस फ़ीस में 7.5 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने वर्ष 2022-2023 के लिए नई आबकारी नीति जारी की है, जिसका लक्ष्य राज्‍य सरकार को विकास के लिए राजस्‍व मुहैया कराना, बेरोज़गारों को रोज़गार, किसानों को अपने उत्पाद के लिए बाज़ार उपलब्‍ध कराने के साथ ही बड़े पैमाने पर निवेशकों को आकर्षित करना है।

अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त 144 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) शासन के अपर मुख्‍य सचिव (आबकारी व चीनी उद्योग) संजय भूस रेड्डी (Sanjay Bhoos Reddy) ने शनिवार (1 जनवरी) को नीति के बारे में बताया की, “वर्ष 2022-2023 के लिए आबकारी नीति जारी की गई है, जिसका उद्देश्य राज्य सरकार को विकास के लिए राजस्‍व मुहैया कराना, बेरोज़गारों को रोज़गार, किसानों को अपने उत्पाद के लिए बाज़ार उपलब्‍ध कराने के साथ ही बड़े पैमाने पर निवेशकों को आकर्षित करना है। नई नीति के तहत शराब का दाम राज्‍य में नहीं बढ़ेगा लेकिन लाइसेंस फ़ीस में 7.5 प्रतिशत की वृद्धि की जाएगी। नई नीति में प्रदेश का राजस्व बढ़ाने के साथ ही अच्‍छी गुणवत्‍ता की शराब ग्राहकों को उचित दर पर मुहैया कराई जाएगी।

सेनेटाइजर की 'गंगा' के लिए भगीरथ बने संजय - sanjay r bhoosreddy reformed  the production of sanitizer in uttar pradesh - AajTak

संजय रेड्डी (Sanjay Reddy) ने बताया की, “नई नीति के तहत वर्ष 2022-2023 में उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बनने वाली शराब की आपूर्ति टेट्रा पैक (Tetra Pack) के स्थान पर केवल काँच (Glass) की बोतलों में की जाएगी और काँच (Glass) की बोतलों में आपूर्ति में कठिनाई आने पर टेट्रा पैक (Tetra Pack) में आपूर्ति की अनुमति अपर मुख्‍य सचिव आबकारी द्वारा प्रदान की जाएगी।

Sharaab Ka Ek Paig Bhi Ho Sakta Hai 'Jaanleva', Stadi Mein Khulaasa

अधिकारी के अनुसार, ‘इस नीति में वर्ष 2022-2023 के लिए देशी मदिरा दुकानों के 2021-2022 के बेसिक लाइसेंस फ़ीस (Basic License Fees) पर 7.5 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। देशी मदिरा, विदेशी मदिरा, बीयर एवं भांग की फुटकर दुकानों और मॉडल शाप का वर्ष 2022-2023 के लिए नवीनीकरण किया जाएगा और नवीनीकरण के लिए आवेदन पत्र की प्रोसेसिंग फ़ीस (Processing Fees) में वृद्धि की गई है। देशी मदिरा। विदेशी मदिरा, बीयर की फुटकर दुकानों, मॉडल शॉप्स एवं प्रीमियम रिटेल की बिक्री का समय सुबह 10 बजे से रात्रि 10 बजे तक पहले की तरह ही रखा गया है।

कोरोना से बचाव के लिए मासूम बच्चों को पिला दी देसी शराब और फिर... > Live  Today | Hindi TV News Channel

अपर मुख्‍य सचिव ने बताया की, “अभी तक प्रदेश शराब और बीयर के ख़रीददार के रूप में रहा है, लेकिन अब इसे उत्‍पादक राज्‍य (Production State) के रूप में विकसित किया जाएगा। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फलों से शराब बनेगी और लखनऊ (Lucknow) के दशहरी का भी बेहतर उपयोग हो सकेगा। इसके अलावा गेहूँ और जौ से बीयर बनेगी और बाराबंकी (Barabanki), मिर्ज़ापुर (Mirzapur) समेत 3 स्थानों पर बीयर का उत्पादन होगा एवं राज्‍य में धान, मक्का और आलू से भी शराब बनाने की पहल की गई है।”

Aetarat Ahmad

Comment As:

Comment (0)