राजा भईया भी होंगे सपा में शामिल ? संकेत मिलें, News: महाराष्ट्र में 22 अक्टूबर से फिर से खुलेंगे सिनेमाघर, आने वाले रिलीज के लिए गाइडलाइन, Corona News: 100 करोड़ पार हुआ वैक्सीनेशन का आकड़ा, जानिए क्या बोले PM Modi , Delhi Crimes: रिजेक्शन ना झेल पाया युवक, युवती की चाकू घोप कर हत्या  , Uttarakhand News: गृह मंत्री अमित शाह ने किया प्रभावित इलाको में हवाई सर्वे, अधिकारियो से भी की मीटिंग , Bigg Boss 15: करन कुंद्रा ने टास्क के दौरान प्रतिक सहजपाल को दिया chokeslams, जानिए इस कि क्या थी वजह , Drugs Case: क्यों पहुंची NCB अनन्या पांडेय के घर, जारी किया समन, आज मनायी जाती है आज़ाद हिन्द फ़ौज की सालगिरह, जानिए क्यों बनी ये पार्टी  , Himachal Pradesh: किन्नौर जिले में 17 ट्रेकर्स लापता, पुलिस का कहना है कि तलाशी अभियान जारी, IMF का चीफ इकोनॉमिस्ट पद छोड़ेंगी गीता गोपीनाथ,

Bsu77774

वरुण गांधी की CM योगी को चिट्ठी, गन्ने का समर्थन मूल्य 400 रुपए करने की मांग

वरुण गांधी की CM योगी को चिट्ठी, गन्ने का समर्थन मूल्य 400 रुपए करने की मांग

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से (भाजपा) के सांसद वरुण गांधी ने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने गन्ने का रेट 400 रुपये प्रति क्विंटल तक करने की अपील की है। भाजपा सांसद ने गन्‍ने के मूल्‍य में प्रति क्विंटल 25 रुपये की वृद्धि के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया साथ ही यह भी सुझाव दिया कि अगर किसी कारणवश और मूल्य वृद्धि संभव न हो तो उत्तर प्रदेश सरकार अपनी ओर से घोषित किये गये गन्‍ना मूल्‍य के ऊपर 50 रुपये प्रति क्विंटल का बोनस देने पर भी विचार कर सकती है।

वरुण गांधी ने सीएम को लिखे पत्र को शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा, “उत्तर प्रदेश में आगामी पेराई सत्र में गन्ने का रेट ₹350/क्विंटल घोषित करने के लिए योगी जी का आभार। मेरा निवेदन है कि कृपया इस पर पुनर्विचार कर बढ़ती लागत व महंगाई के अनुरूप ₹400 का रेट घोषित करें या सरकार की ओर से ₹50/क्विंटल का बोनस घोषित रेट के ऊपर अलग से देने की कृपा करें।”

सोमवार को मुख्यमंत्री को भेजे गये पत्र में वरुण गांधी ने कहा, ”आपकी सरकार ने उत्तर प्रदेश में गन्ने की आगामी पेराई सत्र 2021-22 के लिए गन्ने के मूल्य में 25 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि की है। इस वृद्धि के लिए मैं आपको धन्यवाद देते हुए निवेदन करना चाहता हूं कि गन्ना किसान आपसे और ज्यादा मूल्य वृद्धि की आशा कर रहे हैं।”

वरुण ने पत्र में लिखा, ”उत्तर प्रदेश में गन्ना एक प्रमुख फसल है जिसकी खेती में लगभग 50 लाख किसान परिवार लगे हुए हैं, लाखों मजदूरों को भी इससे रोजगार मिलता है। मेरे क्षेत्र पीलीभीत के गन्ना किसानों ने मेरे माध्‍यम से आपको अवगत कराने का निवेदन किया है कि पिछले चार सालों में गन्ने की लागत, खाद, बीज, कीटनाशक, बिजली, पानी, डीजल मजदूरी, ढुलाई आदि का खर्चा बहुत ज्यादा बढ़ गया है परंतु इसके मूल्य में मामूली बढ़ोतरी की गई।”

उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों की बदहाल स्थिति का जिक्र करते हुए वरुण गांधी ने कहा, ”इस विषय में मैंने एक पत्र के माध्यम से आपसे निवेदन किया था कि गन्ना किसानों की दुर्दशा, गन्ने की बढ़ती लागत और महंगाई दर को देखते हुए इस साल गन्ने का मूल्य कम से कम 400 रुपये प्रति क्विंटल घोषित किया जाना चाहिए।”

अपनी इस मांग पर मुख्‍यमंत्री से पुनर्विचार करने के लिए जोर देते हुए गांधी ने किसानों और मजदूरों के हित में गन्‍ना मूल्‍य बढ़ाने की उम्मीद जताई।

बता दें कि, वरुण गांधी की ये चिट्ठी तब सामने आई है, जब सोमवार को ही देश में किसानों द्वारा भारत बंद बुलाया गया है, जिसका असर पूरे देश में देखने को मिल रहा है। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने भारत बंद बुलाया है, जिसका असर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी देखा जा रहा है।

Nitin Kumar


Comment As:

Comment (0)