राजा भईया भी होंगे सपा में शामिल ? संकेत मिलें, News: महाराष्ट्र में 22 अक्टूबर से फिर से खुलेंगे सिनेमाघर, आने वाले रिलीज के लिए गाइडलाइन, Corona News: 100 करोड़ पार हुआ वैक्सीनेशन का आकड़ा, जानिए क्या बोले PM Modi , Delhi Crimes: रिजेक्शन ना झेल पाया युवक, युवती की चाकू घोप कर हत्या  , Uttarakhand News: गृह मंत्री अमित शाह ने किया प्रभावित इलाको में हवाई सर्वे, अधिकारियो से भी की मीटिंग , Bigg Boss 15: करन कुंद्रा ने टास्क के दौरान प्रतिक सहजपाल को दिया chokeslams, जानिए इस कि क्या थी वजह , Drugs Case: क्यों पहुंची NCB अनन्या पांडेय के घर, जारी किया समन, आज मनायी जाती है आज़ाद हिन्द फ़ौज की सालगिरह, जानिए क्यों बनी ये पार्टी  , Himachal Pradesh: किन्नौर जिले में 17 ट्रेकर्स लापता, पुलिस का कहना है कि तलाशी अभियान जारी, IMF का चीफ इकोनॉमिस्ट पद छोड़ेंगी गीता गोपीनाथ,

12_51_270295452ayodhya

राम नगरी अयोध्या मंदिरों के बारे में विख्यात है

राम नगरी अयोध्या मंदिरों के बारे में विख्यात है ऐसे में आज हम आपको एक मंदिर की ऐसी दास्तान बताते हैं

जी हां अयोध्या जिले के बीकापुर तहसील में स्थित बैती कला गांव राम वन गमन मार्ग पर स्थित है ।वैसे तो राम वन गमन मार्ग पर कई स्थानों की पौराणिक मान्यता से आप रूबरू होंगे मगर इस पौराणिक स्थल महामंडलेश्वर शिव मंदिर की महिमा ही निराली है है जो हजारों लोगों की आस्था का केंद्र बना हुआ है।

विसुहि नदी के किनारे स्थित ग्राम पंचायत बैतीकला में राजा विक्रमादित्य के काल का करीब 8000 वर्ष पुराना यह मंदिर मौजूदा परिवेश में एक आधुनिक स्वरूप में विद्यमान है। इसकी प्रमाणिकता का प्रमाण के रूप में स्थापित शिवलिंग जो सदियों पहले स्वयं ही प्रकट होने की कहानी समेटे है आज भी यहां अनेक विषैले जीव जंतु मंदिर के प्रसिद्ध जी का प्रमाण हैं जिनको देखने मात्र से रोंगटे खड़े हो जाते हैं लेकिन इस मंदिर में वाह आपको विचरण करते हुए दिखेंगे।

आश्चर्यजनक ढंग से इन से लोगों को किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। मंदिर के संरक्षक वह बैतीकला ग्राम पंचायत के प्रधान अनिल सिह राजपूत ने बताया कि बगल में ही प्रसिद्ध सागर पर स्थित पहलवान वीर बाबा की प्रेरणा से सदियों पहले अस्तित्व में आए इस जल मंदिर को वर्तमान समय में जीर्णोद्धार कर नया स्वरूप प्रदान कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर मंदिर के पुजारी बताते हैं कि पौराणिक मान्यताओं को समेटे हुए यह मंदिर आने वाली श्रद्धालुओं की सभी प्रकार की मान्यता परिपूर्ण होती है।


Comment As:

Comment (0)