राजा भईया भी होंगे सपा में शामिल ? संकेत मिलें, News: महाराष्ट्र में 22 अक्टूबर से फिर से खुलेंगे सिनेमाघर, आने वाले रिलीज के लिए गाइडलाइन, Corona News: 100 करोड़ पार हुआ वैक्सीनेशन का आकड़ा, जानिए क्या बोले PM Modi , Delhi Crimes: रिजेक्शन ना झेल पाया युवक, युवती की चाकू घोप कर हत्या  , Uttarakhand News: गृह मंत्री अमित शाह ने किया प्रभावित इलाको में हवाई सर्वे, अधिकारियो से भी की मीटिंग , Bigg Boss 15: करन कुंद्रा ने टास्क के दौरान प्रतिक सहजपाल को दिया chokeslams, जानिए इस कि क्या थी वजह , Drugs Case: क्यों पहुंची NCB अनन्या पांडेय के घर, जारी किया समन, आज मनायी जाती है आज़ाद हिन्द फ़ौज की सालगिरह, जानिए क्यों बनी ये पार्टी  , Himachal Pradesh: किन्नौर जिले में 17 ट्रेकर्स लापता, पुलिस का कहना है कि तलाशी अभियान जारी, IMF का चीफ इकोनॉमिस्ट पद छोड़ेंगी गीता गोपीनाथ,

try

Happy Daughters’ Day 2021: सितम्बर माह के अंतिम रविवार को बिटिया दिवस मनाया जाता है, क्या हैं इसका म

Happy Daughters’ Day 2021: सितम्बर माह के अंतिम रविवार को बिटिया दिवस मनाया जाता है, क्या हैं इसका महत्व

इस साल 26 सितम्बर बिटिया दिवस मनाया जा रहा है। आज का दिन बहुत ही खास दिन माना जाता है। कहते हैं कि जिस दिन घर में एक बेटी का जन्म होता है उस दिन के बाद से हर एक दिन बिटिया दिवस के रूप में ही मनाया जाता है। 

लेकिन उनके अस्तित्व को सराहने के लिए इस दिन का महत्व बहुत अधिक माना जाता है। बेटियां लक्ष्मी होती हैं। घर में खुशियां उनके ही होने से आती हैं। अलग-अलग धर्मों में भी बेटियों को पूजनीय माना गया है।

हर साल सितंबर के आखिरी रविवार को डॉटर्स डे के रूप में मनाया जाता है। विदेशों में डॉटर्स डे 28 सितंबर, सोमवार को मनाया जाएगा। इस दिन का इतिहास बहुत खास है। लड़के की तुलना में लड़कियों का लिंगानुपात कम होता देख अंतर्राष्ट्रीय तौर पर डॉटर्स डे मनाने का निर्णय लिया गया।

खिलती हुई कलियां हैं बेटियां,
मां-बाप का दर्द समझती हैं बेटियां,
घर को रोशन करती हैं बेटियां,
लड़के आज हैं तो
आने वाला कल हैं बेटियां।
डॉटर्स डे की शुभकामनाएं
बेटे भाग्य से होते हैं,
पर बेटियां सौभाग्य से होती हैं।

बेटियों को इस खास दिन की मुबारकबाद!
मेरा बेटा तब तक मेरा बेटा है,
जब तक उसे पत्नी नहीं मिल जाती।
लेकिन मेरी बेटी तब तक मेरी बेटी है,
जब तक मेरी जिंदगी खत्म नहीं हो जाती
 एक मीठी सी मुस्कान है बेटी,
यह सच है कि मेहमान है बेटी,
उस घर की पहचान बनने चली,
जिस घर से, अनजान है बेटी।

जय प्रकाश मिश्रा 


Comment As:

Comment (0)