Ramayan-Circuit-Train-2-1

रामायण एक्सप्रेस की वेटर्स यूनिफॉर्म पर छिड़ा विवाद, अयोध्या-रामेश्वरम ट्रेन में भगवा पहन बर्तन उठा

रामायण एक्सप्रेस की वेटर्स यूनिफॉर्म पर छिड़ा विवाद, अयोध्या-रामेश्वरम ट्रेन में भगवा पहन बर्तन उठा रहे वेटर, संत समाज में वेटर्स यूनिफॉर्म विरोध

रामायण सर्किट स्पेशल ट्रेन में वेटर्स की ड्रेस पर उज्जैन के साधु-संतों विऱोध जता रहे हैं | दरअसल इस ट्रेन के वेटर्स को भगवा कपड़े, धोती, पगड़ी और रुद्राक्ष की माला पहनाई गई है | सोशल मीडिया  पर एक वीडियो सामने आया है जिसमें वेटर्स संतों की वेशभूषा में लोगों को खाना सर्व कर रहे हैं, वही लोग जूठे बर्तन उठाते नजर आ रहे हैं | संतों ने कहा है कि ये उनका अपमान है | ट्रेन के वेटर्स को कोई दूसरी ड्रेस पहनाई जानी चाहिए | उज्जैन के संतों ने रेल मंत्री को चिट्‌ठी लिखकर 12 दिसंबर को शुरू होने वाले ट्रेन की अगली ट्रिप का विरोध करने की चेतावनी दी है साथ ही ट्रेन रोकने की बात भी कही है | अखाड़ा परिषद के पूर्व महामंत्री परमहंस अवधेश पुरी महाराज ने कहा है कि जल्द से जल्द  ही वेटर्स की वेशभूषा को बदला  दिया जाए | वरना 12 दिसंबर को निकलने वाली अगली ट्रेन का संत समाज विरोध करेगा और ट्रेन के सामने हजारों हिन्दुओं को लेकर प्रदर्शन किया जाएगा | 

Indian Railways IRCTC: फुल एसी है Ramayan Circuit Train, अयोध्या से  रामेश्वरम तक कराएगी दर्शन; जानें- किस क्लास का कितना है किराया Indian  Railways IRCTC: Ramayan Circuit Train is full AC &

जानकारी के लिये आपको बता दें कि | दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से चलने वाली इस ट्रेन का पहला पड़ाव अयोध्या है। यहां से ही धार्मिक यात्रा की शुरूआत यहीं से  होती है | अयोध्या से यात्रियों को सड़क मार्ग से नंदीग्राम, जनकपुर, सीतामढ़ी के रास्ते नेपाल ले जाया जाता है | इसके बाद ट्रेन से यात्रियों को भगवान शिव की नगरी वाराणसी ले जाया जाता है | यहां से बसों के जरिए काशी के प्रसिद्ध मंदिरों सहित सीता समाहित स्थल, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट ले जाया जाता है | चित्रकूट से यह ट्रेन नासिक पहुंचती है, नासिक से किष्किंधा नगरी हंपी, जहां अंजनी पर्वत स्थित श्री हनुमान जन्मस्थल और का दर्शन कराया जाता है | इस ट्रेन का अंतिम पड़ाव रामेश्वरम है | रामेश्वरम से चलकर यह ट्रेन 17वें दिन वापस लौटती है | रेल और सड़क मार्ग की यात्रा को मिला दें तो यह यात्रा 7500 किलोमीटर की है | 

First Ramayan Yatra train 100% booked, next tour on December 12

12 दिसंबर को होगी ट्रेन की अगली ट्रिप:
12 दिसंबर को रामायण एक्सप्रेस ट्रेन की अगली ट्रिप है | इसके लिए IRCTC की वेबसाइट पर ऑनलाइन बुकिंग कराई जा सकती है। बुकिंग पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर होगी | 18 साल से ज्यादा उम्र के हर पैसेंजर को कोविड के दोनों टीके लगवाना जरूरी है | 

 


Comment As:

Comment (0)