Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

Cryptocurrency_58555_24112021095911 (1)

इधर Crypto पर बैन, उधर Coinstore की एंट्री, बड़ा है प्लान?

इधर Crypto पर बैन, उधर Coinstore की एंट्री, बड़ा है प्लान?

जहाँ एक तरफ़ भारत में केंद्र सरकार ने तय कर लिया है कि वह अब बिटक्वाइन जैसी डिजिटल मुद्रा यानी क्रिप्टोकरेंसी(Cryptocurrency) को बैन करेगी वही दूसरी ओर सिंगापुर-बेस्ट वर्चुअल करेंसी एक्सचेंज (Cryptocurrency exchange) भारत में अपने ऑपरेशन शुरू कर चुकी है। 

आजकल लोगों में क्रिप्टो में निवेश का क्रेज़ काफी बढ़ गया है और इसी के चलते ही भारत में क्रिप्टो बैन पर काफी चर्चा चल रही है। आपको बता दें, इसके लिए सरकार क्रिप्टोकरेंसी बिल लाने की तैयारी भी कर चुकी है। इसके बाद केंद्र सरकार भारत की अपनी डिजिटल मुद्रा लांच करेगी। 

सिंगापुर की वर्चुअल करेंसी एक्सचेंज कॉइनस्टोर (Coinstore) ने भारत में भी अपना ऑपरेशन शुरू कर दिया है। एक्सचेंज ने ऐसे समय में भारत में अपना ऑपरेशन शुरू किया है जब भारत सरकार ज्यादातर प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी को बैन करने के लिए कानून तैयार कर रही है। कॉइनस्टोर (Coinstore) ने अपना वेब और ऐप प्लेटफॉर्म लॉन्च किया है और बैंगलोर, नई दिल्ली और मुंबई में ब्रांचों की प्लानिंग की है। ये भारत में आने वाले समय में इसकी नींव की तरह काम करेंगी, मैनेजमेंट का कहना है। 

कॉइनस्टोर में मार्केटिंग के प्रमुख Charles Tan ने रॉयटर्स को बताया, "हमारे कुल एक्टिव यूजर्स में से लगभग एक चौथाई भारत से आते हैं इसलिए इस मार्केट में अपना विस्तार करना हमें समझ में भी आता है।" यह पूछे जाने पर कि क्रिप्टोकरेंसी पर अभी शिंकजा कसने वाला कानून आना बाकी है, बावजूद इसके कॉइनस्टोर भारत में क्यों लॉन्च कर रही है, टैन ने कहा: "पॉलिसी में बदलाव हुए हैं, लेकिन हमें उम्मीद है कि चीजें पॉजीटिव होने वाली हैं और हमें उम्मीद है कि भारत सरकार क्रिप्टोकरेंसी के लिए एक हेल्दी फ्रेमवर्क लेकर आएगी।" 

टैन ने कहा कि कॉइनस्टोर (Coinstore) भारत में लगभग 100 से ज्यादा कर्मचारी रखने की तैयारी में है। कंपनी भारतीय बाजार में मार्केटिंग, हायरिंग और क्रिप्टो संबंधी प्रोडक्ट्स और सर्विसेज़ के डेवलपमेंट पर लगभग 20 मिलियन डॉलर खर्च करने की योजना के साथ आई है। 

बता दें कि हाल ही के महीनों में भारतीय बाजार में प्रवेश करने वाली कॉइनस्टोर (Coinstore) दूसरी ग्लोबल एक्सचेंज बन गई है। इससे पहले सितंबर में क्रॉसटावर (CrossTower) नाम की एक एक्सचेंज ने भारत में अपनी स्थानीय यूनिट लगाई थी। 

क्रिप्टो की इंडस्ट्री का अनुमान है कि भारत में क्रिप्टोकरंसी में निवेश करने वाले लोगों की संख्या 15 मिलियन से लेकर 20 मिलियन तक हो सकती है। इन लोगों के पास क्रिप्टो की लगभग 400 बिलियन रुपयों की होल्डिंग भी हो सकती है। भारत के अलावा कॉइनस्टोर की योजना जापान, कोरिया, इंडोनेशिया और वियतनाम में भी एक्सपेंड करने की है। 


Comment As:

Comment (0)