jewar-airport-1637804677 (1)

जेवर एयरपोर्ट की 5 ख़ास बातें

जेवर एयरपोर्ट की 5 ख़ास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज (गुरुवार को) पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) के दौरे पर रहेंगे। पीएम मोदी के इस दौरे से दो खास बातें जुड़ी हैं एक तो ये कि जल्द ही यूपी में विधान सभा चुनाव (UP Assembly Elections) होने जा रहे हैं। दूसरा ये कि तीन कृषि कानूनों (Farm Laws) की वापसी के ऐलान के बाद पीएम मोदी (PM Modi) का ये पहला यूपी दौरा होगा। प्रधानमंत्री के दौरे से पहले राजनीतिक गठबंधन का खेल भी शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री मोदी आज पश्चिमी यूपी में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) का शिलान्यास करेंगे। पीएम मोदी आज बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे। 

Jewar Airport: गौतम बुद्ध नगर में आज (गुरुवार को) पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) शिलान्यास करने पहुंचेंगे। गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) में योजनाओं और परियोजनाओं का सैलाब सा आ गया है, और इसी से आप जेवर एयरपोर्ट कितना ख़ास है इसका अंदाज़ा लगा सकते हैं। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) की अहमियत आप इस बात से समझ सकते हैं कि यूपी के गौतम बुद्ध नगर के इस छोटे से गांव के आसपास जमीन के भाव आज आसमान छू रहे हैं. ये निवेशकों की पहली पसंद बन गया है। 

इस एयरपोर्ट के चलते चार नए शहर बस रहे हैं और इतना ही नहीं कनेक्टिविटी को लेकर भी खूब चर्चा हैं। कारोबार के लिहाज़ा एयरपोर्ट को संजीवनी कहा जा रहा है।आपको बता दें कि, यूपी ही नहीं देश के दूसरे हिस्सों में भी जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) से जुड़ीं 5 खास बातों की खूब चर्चाएं हो रही हैं। 

यमुना एक्सप्रेसवे से एलिवेटेड सड़क सीधे एयरपोर्ट तक जाएगी जिससे किसी भी शहर और दिशा से जेवर एयरपोर्ट(Jewar Airport) तक पहुंचने में कोई परेशानी न हो। गंगा एक्सप्रेसवे को यमुना एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा। वेस्ट यूपी के शहरों को सीधे एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे की मदद लेकर बुलंदशहर से एक नई सड़क तैयार की जाएगी। 

सुपरफास्ट मेट्रो ट्रेन और पॉड टैक्सी के लिए बनेगा स्पेशल कॉरिडोर
जेवर एयरपोर्ट से आईजीआई, दिल्ली को जोड़ने के लिए बनाए जाने वाले स्पेशल मेट्रो कॉरिडोर की लम्बाई करीब 74 किमी होगी। कॉरिडोर का रूट कई फेज में होगा। जेवर एयरपोर्ट से लेकर नॉलेज पार्क (ग्रेटर नोएडा) तक, नॉलेज पार्क से नोएडा और नोएडा से यमुना बैंक स्टेशन तक एलिवेटेड ट्रैक बनेगा, इसके बाद यमुना बैंक से नई दिल्ली (शिवाजी पार्क) तक अंडरग्राउंड कॉरिडोर तैयार होगा। 

बोड़ाकी में बनेगा मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब
यहाँ मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब तैयार करने की योजना पर कामकिया जा रहा है। इसके लिए 7 गांवों की 478 हेक्टेयर जमीन अधिग्रिहित की जा सकती है। योजना के तहत यहां रेलवे स्टेशन, मेट्रो ट्रेन और बस अड्डा भी तैयार किया जा रहा है। 

15 घंटे में देश के किसी भी हिस्से में पहुंच जाएगा सामान
सीईओ का कहना है कि ग्रेटर नोएडा शहर की कनेक्टिविटी देश के दूसरे शहरों से कहीं बेहतर है। यहां पर दुबई और सिंगापुर जैसे पोर्ट की तरह इनलैंड कंटेनर डिपो भी बनाया जाएगा। जिसके जरिए कोई भी सामान भारत के किसी भी हिस्से में सिर्फ 15 घंटे में पहुंच जाएगा। 

जेवर एयरपोर्ट पर ही होगी विमानों की मेंटिनेंस
यहां देश के सबसे बड़ा हवाई जहाजों की मरम्मत करने का वर्कशॉप एमआरओ (मेंटिनेंस रिपेयरिंग एंड ओवरहॉलिंग) हब भी बनाया जाएगा। 


 


Comment As:

Comment (0)