Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

85858585_1635766654

Zika Virus: यूपी में जीका वायरस ने पसारे पैर, कानपुर के बाद अब लखनऊ में मिले केस

Zika Virus: यूपी में जीका वायरस ने पसारे पैर, कानपुर के बाद अब लखनऊ में मिले केस

Zika virus in Lucknow: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में जीका वायरस (Zika Virus) के पैर अब और भी लम्बे होते नजर आ रहे हैं। बीते दीनो कानपुर में जीका वायरस से संक्रमित मरिजो की संख्या 100 के पार होने कि खबर सामने आई थी। 

कानपुर (Kanpur) के बाद इस वायरस(Zika Virus) से संक्रमित होने के दो केस राजधानी लखनऊ (Lucknow) में जीका के 2 केस डिटेक्ट हुए हैं। यूपी सरकार में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा महानिदेशक डॉ. वेद व्रत सिंह ने बताया है कि लखनऊ के हुसैनगंज एवं एलडीए कॉलोनी में जीका वायरस से संक्रमित होने के मामले सामने आए हैं। 

कानपुर के बाद लखनऊ में जीका वायरस के दस्तक देने के बाद स्थानीय अधिकारी हरकत में आ गए हैं। कन्नौज में भी इस वायरस से संक्रमित होने का एक केस मिला है। 

जीका वायरस मुख्य रूप से मच्छर के काटने से फैलता है। इससे संक्रमित होने पर व्यक्ति में हल्का बुखार, शरीर पर धब्बे, मांसपेशियों में दर्द,सिरदर्द और बेचैनी जैसे लक्षण दिखते हैं। 

ये भी पढ़ें: Zika Virus को लेकर योगी का एक्शन प्लान तेज़

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एडीज मच्छर आम तौर पर दिन में लोगों को काटते हैं। इसी एडीज मच्छर के काटने से डेंगू और चिकनगुनिया भी होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की राय है कि जीका वायरस से संक्रमित होने पर गंभीर समस्या नहीं होती लेकिन यह गर्भवती महिलाओं के लिए घातक हो सकता है। उत्तर प्रदेश से पहले जीका वायरस से संक्रमण के केस केरल एवं महाराष्ट्र में सामने आ चुके हैं। कानपुर में एक स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर नमूने एकत्र करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। अधिकारी ने कहा कि अधिकांश लोग जो जीका से संक्रमित हैं लेकिन उनमें लक्षण नहीं हैं। 

डोर-टू-डोर सर्वेक्षण और लोगों के नमूने लिए जा रहे हैं। विशेष रूप से प्रभावित क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं के नमूने लेने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही, रेडियोलॉजी केंद्रों को सतर्क कर दिया गया है।


Comment As:

Comment (0)