sharad-purnima-640x479

Sharad Purnima 2021: शरद पूर्णिमा आज या कल जानिए सही डेट, पूजन का शुभ मुहूर्त, महत्व

Sharad Purnima 2021: शरद पूर्णिमा आज या कल जानिए सही डेट, पूजन का शुभ मुहूर्त, महत्व

शरद पूर्णिमा 2021 : हिन्दू धर्म में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्‍व है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहते हैं। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, यह रात चंद्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होती है। मान्यता है कि चंद्रमा से निकलने वाली किरणें अमृत समान होती हैं। इस साल शरद पूर्णिमा 19 अक्टूबर, मंगलवार (आज) है।

इस साल पंचांग भेद होने के कारण यह पर्व दो दिन मनाया जाएगा। ऐसे में कुछ जगहों पर पूर्णिमा व्रत 20 अक्टूबर को रखा जाएगा। शरद पूर्णिमा का दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने का खास दिन माना जाता है। मान्यता है कि इस दिन मां लक्ष्मी रात में भम्रण पर निकलती है।

Sharad Purnima 2020: शरद पूर्णिमा आज, ऐसे करें पूजा- दूर होगी गरीबी

शरद पूर्णिमा पर क्या करते हैं 
शरद पूर्णिमा के दिन सुबह उठकर व्रत का संकल्प लें। इसके बाद किसी पवित्र नदी या कुंड में स्नान करें। स्वच्छ वस्त्र धारण करने के बाद अपने ईष्टदेव की अराधना करें। पूजा के दौरान भगवान को गंध, अक्षत, तांबूल, दीप, पुष्प, धूप, सुपारी और दक्षिणा अर्पित करें। रात्रि के समय गाय के दूध से खीर बनाएं और आधी रात को भगवान को भोग लगाएं। रात को खीर से भरा बर्तन चांद की रोशनी में रखकर उसे दूसरे दिन ग्रहण करें। यह खीर प्रसाद के रूप में सभी को वितरित करें।

Sharad Purnima 2019: Date, Time and Significance of the Day: शरद पूर्णिमा  2019: आज है शरद पूर्णिमा जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा की विधि - India TV  Hindi News

शरद पूर्णिमा 2021 शुभ मुहूर्त
पूर्णिमा तिथि 19 अक्टूबर को शाम 07 बजे से प्रारंभ होगी, जो कि 20 अक्टूबर 2021 को रात 08 बजकर 20 मिनट पर समाप्त होगी।

क्यों होता है खास शरद पूर्णिमा का चाँद, जानिए इसका महत्त्व और प्रचलित  मान्यताएं

शरद पूर्णिमा के दिन इन बातों का रखें ख़ास ध्यान
शरद पूर्णिमा के दिन फल और जल का सेवन करके व्रत रखा जा सकता है। इस दिन सात्विक भोजन ही ग्रहण करना चाहिए। इस दिन काले रंग के वस्त्र पहनने से बचना चाहिए। सफेद रंग के वस्त्र धारण करना शुभ माना जाता है। शरद पूर्णिमा के दिन व्रत कथा अवश्य सुननी चाहिए।


Comment As:

Comment (0)