Horoscope, 17 January 2022: इन राशियों के जातक रहें सावधान, मिलेगा अशुभ परिणाम, पढ़ें अपना राशिफल, "भाजपा सीटें घोषित करने में जितना विलंब करेगी, उसकी मुश्किलें उतनी ही बढ़ेगी", 17 जनवरी को लॉन्च होगा Tata Safari का Dark Edition, कंपनी ने किया टीजर शेयर, पार्टी में दिखना चाहती है आकर्षक, तो जान लें अपना बॉडी शेप , WHO ने बताया, Omicron से बचने के लिए Immunity को ऐसे करें मज़बूत, Miss & Mrs. Banaras प्रतियोगिता में Samiksha Keshri और Vandana Singh ने जीता ख़िताब, सपा नेता ने पार्टी कार्यालय के बाहर की आत्मदाह की कोशिश, टिकट न मिलने पर था नाराज, भारत की Tasnim Mir ने रचा इतिहास, यूपी में गलन वाली ठंड, रद्द की गई कई ट्रेनें, जानें मौसम अपडेट, Lakshya Sen और Chirag-Satwik की जोड़ी इंडिया ओपन के फाइनल में,

981353-untitled-2021-12-02t172746

शहरों के बाद अब बीजेपी बदलेगी नेताओं के नाम

शहरों के बाद अब बीजेपी बदलेगी नेताओं के नाम

उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों के बीच नोंक-झोंक और बयानबाजी तेज होती जा रहा है। खासकर समाजवादी पार्टी और BJP जबरदस्त तरीके से एक-दूसरे पर हमला कर रही हैं। माना जा रहा है कि आगामी विधान सभा चुनाव में नंबर 1 और 2 की लड़ाई इन्हीं दोनों पार्टियों के बीच होगी। इस बीच उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने एक ऐसा बयान दिया है जिसको लेकर हंगामा होना तय है। 

Akhilesh Yadav asked where did the factory-industry take place even after  organizing big investments - बुंदेलखंड में अखिलेश यादव बोले-झांसी वाले अब  BJP के झांसे में नही आएंगे

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश यादव पर तंज किया है। उन्होंने कहा कि अब मैं उन्हें अखिलेश यादव नहीं बल्कि अखिलेश अली जिन्ना कहता हूं। केशव प्रसाद ने आगे कहा कि अखिलेश पिछड़ों के नाम पर राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं जोकि मौकापरस्ती है। 

Up Deputy Cm Keshav Prasad Maurya calls Akhilesh Yadav as Akhilesh Ali  Jinnah assembly elections 2022 bjp sp | 'शहरों के बाद अब BJP ने बदला अखिलेश  यादव का नाम', जोरदार हंगामा

बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चुनाव प्रचार के दौरान एक रैली में कहा था कि देश की आजादी में मोहम्मद अली जिन्ना की भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लौहपुरुष सरदार पटेल की तरह ही अहम भूमिका थी। मोहम्मद अली जिन्ना स्वंतत्रता सेनानी थे। जिसके बाद उन्हें काफी विरोध का सामना करना पड़ा था। 

महागठबंधन पर बोले अखिलेश यादव- 'साइकिल' रोके तो 'हाथ' हैंडल से हटा देंगे!-akhilesh  yadav comments on mahagathbandan, attacks on congress – News18 हिंदी

गौरतलब है कि केशव प्रसाद मौर्य के कई हालिया बयान चर्चा में हैं। हाल ही में उन्होंने कहा था कि रामलला की जन्मभूमि अयोध्या हमारी हो चुकी है। वहां राम मंदिर का निर्माण शुरू होने से श्रद्धालु बहुत खुश हैं। बाबा विश्वनाथ की काशी में भी कॉरिडोर तैयार हो चुका है, अब मथुरा में भगवान कृष्ण की जन्मभूमि की बारी है।  

Know why Akhilesh Yadav said BJP should change its slogan to my family  running family - जानिए अखिलेश यादव ने क्यों कहा, भाजपा को अपना नारा बदलकर  मेरा परिवार भागता परिवार करना

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के इस बयान पर कुछ राजनीतिक पंडितों का मानना है कि बीजेपी यूपी विधान सभा चुनाव 2022 में कृष्ण जन्मभूमि को मुद्दा बना सकती है। 


Comment As:

Comment (0)